दिल्ली में कांग्रेस को फिर बड़ा झटका, नसीब सिंह और नीरज बसोया ने पार्टी छोड़ी; लगाया गंभीर आरोप

नई दिल्ली, बीएनएम न्यूजः लोकसभा चुनाव के बीच दिल्ली कांग्रेस की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। पार्टी के अंदर घमासान तेज हो गया है। नाराज नेता लगातार पार्टी छोड़ रहे हैं। राजकुमार चौहान के बाद कांग्रेस के दो पूर्व विधायक नसीब सिंह और नीरज बसोया ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। इससे पहले अरविंदर सिंह लवली ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था।

पूर्व विधायक नसीब सिंह और नीरज बसोया ने अपने इस्तीफे में पार्टी छोड़ने का कारण भी बताया है। उन्होंने इस्तीफे में उदित राज के बयानों को लेकर नाराजगी जाहिर की है। बता दें कि कांग्रेस ने दिल्ली की उत्तर पश्चिम सीट से उदित राज को इंडी गठबंधन का उम्मीदवार बनाया है। हालांकि, वहां बाहरी उम्मीदवार बताकर विरोध भी तेज हो गया है।

इससे पहले रविवार को अरविंदर सिंह लवली के इस्तीफा के बाद दिल्ली कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उत्तर पूर्वी दिल्ली सीट से कांग्रेस उम्मीदवार कन्हैया कुमार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया था। पार्टी कार्यकर्ता कन्हैया कुमार के चुनाव कार्यालय के बाहर काले पोस्टर लेकर खड़े हो गए थे। इन पोस्टर पर लिखा था, ‘स्थानीय उम्मीदवार चाहिए, बाहरी नहीं। फिलहाल, कांग्रेस ने देवेंद्र यादव को दिल्ली कांग्रेस का नया अध्यक्ष बनाया है।

AAP को क्लीन चिट देने का संदेश दे रही है कांग्रेसः बसोया

वहीं, पूर्व विधायक नीरज बसोया ने इस्तीफे में बताया कि दिल्ली में AAP के साथ पार्टी के गठबंधन से व्यथित होकर पार्टी छोड़ रहा हूं। यह गठबंधन दिल्ली कांग्रेस कार्यकर्ताओं के लिए बड़ी बदनामी और शर्मिंदगी की वजह बन रहा है। मेरा मानना ​​है कि एक स्वाभिमानी पार्टी नेता के रूप में मैं अब पार्टी के साथ जुड़ा नहीं रह सकता। AAP के साथ हमारा गठबंधन बेहद अपमानजनक है। क्योंकि AAP पिछले 7 वर्षों में कई घोटालों से जुड़ी रही है। AAP के शीर्ष 3 नेता अरविंद केजरीवाल, सत्येन्द्र जैन और मनीष सिसौदिया पहले से ही जेल में हैं। AAP पर दिल्ली शराब घोटाला और दिल्ली जल बोर्ड घोटाला जैसे कई मुद्दों पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगे हैं। दूसरी ओर AAP ने लगातार हमारी पार्टी और शीर्ष नेतृत्व पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उसके बावजूद गठबंधन करके कांग्रेस पार्टी AAP को क्लीन चिट देने जैसा संदेश देने की कोशिश कर रही है।

‘भ्रष्टाचार में लिप्त है आम आदमी पार्टीः नसीब

इधर, नसीब सिंह ने इस्तीफे में लिखा कि कांग्रेस ने देवेंद्र यादव को डीपीसीसी प्रमुख नियुक्त किया है। पंजाब प्रभारी के रूप में उन्होंने अब तक वहां अरविंद केजरीवाल के झूठे एजेंडे के खिलाफ एक अभियान चलाया है और आज दिल्ली में उन्हें मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का समर्थन करने के लिए बाध्य किया जाएगा। नसीब ने कहा कि मैं राजीव गांधी जी के समय से ही कांग्रेस पार्टी से जुड़ा हुआ हूं। सोनिया गांधी जी ने अपने कुशल नेतृत्व में मुझे कई महत्वपूर्ण नेतृत्व भूमिकाएं दीं और पार्टी के एक सैनिक के रूप में मैंने हमेशा मुझे सौंपे गए प्रत्येक कार्य को पूरा किया है और अपना सर्वश्रेष्ठ दिया है। स्व. शीला दीक्षित के कुशल नेतृत्व में मैंने दिल्ली के विकास के लिए दिन-रात काम किया। हालांकि, 2012-2013 में AAP शहर में कांग्रेस के खिलाफ झूठे प्रचार और दुर्भावनापूर्ण प्रचार के आधार पर उभरी। आम आदमी पार्टी ने हमारे नेतृत्व को बदनाम किया और दावा किया कि वे भ्रष्टाचार में शामिल हैं।

यह भी पढ़ें- सुप्रीम कोर्ट ने ED से पूछा- लोकसभा चुनाव से पहले अरविंद केजरीवाल को क्यों गिरफ्तार किया

भारत न्यू मीडिया पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज, Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट , धर्म-अध्यात्म और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi  के लिए क्लिक करें इंडिया सेक्‍शन

 

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

You may have missed