आतंकी निज्जर हत्याकांड : कनाडा में तीन भारतीयों की गिरफ्तारी पर एस जयशंकर ने दी प्रतिक्रिया

भुवनेश्वर, बीएनएम न्यूजः भारत उन तीन भारतीय लोगों के बारे में जानकारी साझा करने के लिए कनाडाई पुलिस का इंतजार करेगा, जिन्हें उसने पिछले साल एक खालिस्तानी आतंकवादी की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है। भारतीय विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने शनिवार को यह बयान दिया। एस. जयशंकर ने कहा कि खालिस्तानी आतंकी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या के मुद्दे पर कनाडा में जो कुछ भी हो रहा है, वो ज्यादातर वहां की आंतरिक राजनीति के कारण है और इसका भारत से कोई लेना-देना नहीं है। कनाडाई पुलिस ने हरदीप सिंह निज्जर की हत्या के मामले में शुक्रवार को कहा कि वे जांच कर रहे हैं कि क्या संदिग्धों के भारत सरकार से संबंध थे?

रायटर की रिपोर्ट के मुताबिक, एस. जयशंकर ने कहा कि उन्होंने गिरफ़्तारियों की ख़बरें देखी हैं और कहा कि संदिग्ध “स्पष्ट रूप से किसी प्रकार की गिरोह पृष्ठभूमि के भारतीय हैं… हमें पुलिस के बताने का इंतज़ार करना होगा। लेकिन, जैसा कि मैंने कहा, हमारी एक चिंता जो हम उन्हें बता रहे हैं… वह यह है कि आप जानते हैं, उन्होंने भारत से, विशेष रूप से पंजाब से, संगठित अपराध को कनाडा में संचालित करने की अनुमति दी है।”

कनाडा में भारत के उच्चायुक्त संजय वर्मा ने कहा कि उन्हें गिरफ्तार किए गए तीन भारतीयों के संबंध में कनाडाई अधिकारियों से नियमित अपडेट मिलने की उम्मीद है। वर्मा ने कहा कि मैं समझता हूं कि संबंधित कनाडाई कानून प्रवर्तन एजेंसियों द्वारा की गई जांच के परिणामस्वरूप गिरफ्तारियां की गई हैं। यह मुद्दा कनाडा का आंतरिक है और इसलिए इस संबंध में हमारे पास कहने के लिए कुछ नहीं है।

पुलिस ने बताया कि तीनों (सभी भारतीय नागरिक) को शुक्रवार को अलबर्टा के एडमॉन्टन शहर में गिरफ्तार किया गया। 45 वर्षीय निज्जर की जून में बड़ी सिख आबादी वाले वैंकूवर उपनगर सरे में एक गुरुद्वारे के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इसके बाद से भारत और कनाडा के रिश्‍तों में तनाव आ गया है।

ट्रूडो ने भारत पर लगाया था आरोप

पिछले साल सितंबर में निज्जर की हत्या में भारतीय एजेंटों की संभावित संलिप्तता के कनाडाई प्रधान मंत्री जस्टिन ट्रूडो के आरोपों के बाद भारत और कनाडा के बीच संबंधों में गंभीर तनाव आ गया था। भारत ने ट्रूडो के आरोपों को “बेतुका” और “प्रेरित” बताकर खारिज कर दिया है।

अन्य को भी गिरफ्तार किया जाएगा

कनाडा में खालिस्तान अलगाववादी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या के सिलसिले में तीन भारतीय नागरिकों को गिरफ्तार करने वाले कनाडाई अधिकारियों ने कहा है कि उनकी जांच अभी पूरी नहीं हुई है और हत्या में भूमिका निभाने वाले “अन्य” लोगों को भी गिरफ्तार किया जाएगा। भारतीय विदेश मंत्री ने इस पर कहा कि कनाडा ने कोई सबूत नहीं दिया। वे कुछ मामलों में हमारे साथ कोई सबूत साझा नहीं करते हैं, पुलिस एजेंसियां भी हमारे साथ सहयोग नहीं करती हैं। कनाडा में भारत पर आरोप लगाना उनकी राजनीतिक मजबूरी है। जैसे ही कनाडा में चुनाव आ रहा है, वे वोट बैंक की राजनीति में शामिल हो गए हैं। कई देशों के प्रमुख भारतीय प्रधानमंत्री का बहुत सम्मान करते हैं।

एस जयशंकर ने माना कि चीन और पाकिस्तान के साथ कुछ तरह के मतभेद हैं। मोदी सरकार आने तक हम इसे बर्दाश्त कर रहे थे। हम दूसरा गाल आगे कर रहे थे। पीएम मोदी के आने के बाद चीजें बदल गई हैं। आपने उरी, बालाकोट देखा। इसलिए, हमने आज यह बिल्कुल साफ कर दिया है कि पाकिस्तान से आने वाले आतंकवाद, सीमा पार आतंकवाद के किसी भी खतरे को भारत से उचित प्रतिक्रिया मिलेगी।

यह भी पढ़ेंः अमेरिका में आतंकी गोल्डी बराड़ की हत्या का दावा, सिद्धू मूसेवाला मर्डर केस का था मास्टरमाइंड

भारत न्यू मीडिया पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज, Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट , धर्म-अध्यात्म और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi  के लिए क्लिक करें इंडिया सेक्‍शन

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

You may have missed