Arvind Kejriwal: इंसुलिन को लेकर अरविंद केजरीवाल ने जेल अधीक्षक को लिखा पत्र, कहा-आपका बयान झूठा

दिल्ली, बीएनएम न्यूज। Arvind Kejriwal: आबकारी नीति घोटाले में जेल में बंद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को इंसुलिन नहीं मिलने पर आरोप-प्रत्यारोप जारी है। इसी के बीच केजरीवाल ने तिहाड़ जेल अधीक्षक को चिट्ठी लिखी है। इसमें उन्होंने जेल प्रशासन के बयान को गलत बताया है। केजरीवाल के इस पत्र में जेल प्रशासन के दोनों बयानों का जिक्र हैं। आप ने इस पत्र को अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर किया है।

पिछले 10 दिन से लगातार इंसुलिन का मुद्दा उठा रहा हूं

 

केजरीवाल ने अपने पत्र में लिखा है, अखबार में आपका बयान पढ़ा। वो गलत है। आपका झूठा बयान पढ़ के बहुत दुख हुआ। जेल प्रशासन का पहला बयान ‘अरविंद केजरीवाल ने इंसुलिन का मुद्दा कभी नहीं उठाया’ सरासर झूठ है। मैं पिछले 10 दिन से लगातार इंसुलिन का मुद्दा उठा रहा हूं, दिन में कई बार उठा रहा हूं। जब भी कोई डाक्टर मुझे देखने आया तो मैंने बताया कि मेरा शुगर लेवल बहुत हाई है। मैंने ग्लूकोमीटर की रीडिंग दिखा कर बताया कि दिन में तीन बार पीक आती है और शुगर लेवल 250-320 के बीच जाता है। मैंने बताया कि फास्टिंग का शुगर लेवल रोज़ 160-200 पर है। मैंने रोज इंसुलिन की मांग की है। तो आप यह झूठा बयान कैसे दे सकते हैं कि केजरीवाल ने कभी इंसुलिन का मुद्दा नहीं उठाया?

एम्स के डाक्टर ने शुगर लेवल और मेरे स्वास्थ्य से जुड़ा पूरा डाटा मांगा

पत्र में आगे जेल प्रशासन के दूसरा बयान का जिक्र करते हुए लिखा गया कि एम्स के डाक्टरों ने आश्वस्त किया है कि कोई चिंता की बात नहीं है। यह भी सरासर झूठ है। उन्होंने ऐसा कोई आश्वासन नहीं दिया। उन्होंने शुगर लेवल और मेरे स्वास्थ्य से जुड़ा पूरा डाटा मांगा और कहा कि डाटा को देखने और विश्लेषण करने के बाद वो अपनी राय देंगे। मुझे बहुत दुख है कि आपने राजनीतिक दबाव में आ कर झूठे और गलत बयान दिए हैं। मैं उम्मीद करता हूं कि आप कानून और संविधान का पालन करेंगे।

आतिशी ने ईडी और तिहाड़ जेल प्रशासन पर लगाए आरोप

वहीं दिल्ली सरकार में मंत्री आतिशी ने ईडी और तिहाड़ जेल प्रशासन पर कोर्ट को गुमराह करने का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि केजरीवाल का शुगर लेवल बढ़ने को लेकर ना तो एम्स के विशेषज्ञों से सलाह की गई है और न ही केजरीवाल का प्रॉपर चेकअप करवाया गया है। केवल एक डाइटीशियन के चार्ट के आधार पर कोर्ट में कहा गया है कि अगर उन्हें इसके अनुसार खाना दिया जाए तो उनका शुगर लेवल भी ठीक रहेगा और उन्हें इंसुलिन की जरूरत भी नहीं ही होगी।

आप मुख्यालय में प्रेस वार्ता कर आतिशी ने कहा कि यह सब कुछ एक सोची समझी साजिश के तहत हो रहा है। केजरीवाल के स्वास्थ्य के साथ लगातार खिलवाड़ किया जा रहा है। न उन्हें इंसुलिन दी जा रही है और न ही उन्हें उनके अपने डॉक्टर से सलाह लेने दी जा रही है।

 

Tag-Arvind Kejriwal, Tihar jail superintendent, insulin Issule

भारत न्यू मीडिया पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज, Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट , धर्म-अध्यात्म और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi  के लिए क्लिक करें इंडिया सेक्‍शन

 

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

You may have missed