हरियाणा में प्रेम विवाह पर 2 गांव आमने-सामने: तनाव में लड़की के गांव ने लड़के वालों का बहिष्कार किया, रास्ते भी बंद किए

नरेन्द्र सहारण, नारनौल। Narnaul News: हरियाणा में प्यार, शादी और अब तनाव ने बना डाला है जिंदगी का सबसे बड़ा खतरा। हरियाणा के नारनौल में एक युवक-युवती के प्रेमविवाह ने गांवों के बीच दरारें खड़ी कर दी हैं। दोनों के गांव साथ-साथ होने के बावजूद भी समाज ने प्रेम विवाह को स्वीकार नहीं किया है।

धोलेड़ा गांव की लड़की और बिगोपुर का लड़का

 

इस प्रेम कहानी की शुरुआत धोलेड़ा गांव के बस स्टैंड से हुई थी, जहां बिगोपुर का लड़का एक कोचिंग सेंटर में कोचिंग के लिए आया था। वहीं धोलेड़ा की एक कॉलेज में पढ़ाई करने वाली लड़की रोजाना उसी बस पर सफर करती थी। इसी सफर में दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ीं और वे एक-दूसरे को प्यार करने लगे।

इसे भी पढ़ें: Narnaul News: नारनौल में प्रेम विवाह से 2 गांवों के बीच बढ़ा विवाद, बुलाई महापंचायत, लड़की को घर भेजने पर दिया जोर

युवक-युवती ने भाग कर शादी की

 

दोनों के परिवारों ने एक ही जाति (यादव) से संबंध रखने के बावजूद इस शादी को स्वीकार नहीं किया। इसलिए वे भागकर शादी करने का फैसला लिया। यूपी के गाजियाबाद में 9 जून को दोनों ने पहले आर्य समाज मंदिर में और फिर स्थानीय कोर्ट में प्रेम विवाह किया।

शादी की खबर से भड़के ग्रामीण

 

शादी के बाद बिगोपुर के गांव के लोगों ने धोलेड़ा के गांव के लोगों को अपने गांव में आने से मना कर दिया। बिगोपुर के ग्रामीणों ने धोलेड़ा के गांव के लोगों की तमाम सुविधाओं पर रोक लगा दिया। धोलेड़ा और बिगोपुर गांव की सीमा साथ लगती हुई है। दोनों गांव के बीच आधा किलोमीटर की दूरी है।

सुविधाओं पर लगी रोक

बिगोपुर गांव के लोगों के मुताबिक, उन्हें धोलेड़ा के गांव के लोगों ने उनकी सुविधाओं पर रोक लगा दी है। यहां के गांव में बस स्टैंड, बैंक और मार्केट धोलेड़ा में स्थित हैं, जिन्हें उन्हें इस्तेमाल करने की अनुमति नहीं दी जा रही है।

इस मामले को हल करने के लिए पंचायतों का भी आयोजन हुआ है, लेकिन अभी तक स्थिति सुलझाई नहीं जा सकी है। शादी के बाद भी दोनों गांवों में विरोध जारी है और पंचायतों में इस मामले पर बहस चल रही है।

यह भी पढ़ें: Narnaul News: प्रेम विवाह करने वाले जोड़े को जान का खतरा, लड़की ने सरपंच समेत 3 के नाम लिए

कोर्ट में पहुंचा मामला

लड़की ने दोबारा कोर्ट में जाकर अपनी जान को खतरे में बताया है, जिसके चलते उसे और उसके पति को सेफ हाउस में रहने की सुरक्षा दी गई है।

इस घटना ने न केवल दो परिवारों को बाधित किया है, बल्कि उनके गांवों के सामाजिक सौहार्द को भी कमजोर कर दिया है। अब इस मामले का समाधान करने की कोशिश की जा रही है, जिससे सामाजिक समरसता बरकरार रह सके।

 

 

CLICK TO VIEW WHATSAAP CHANNEL

भारत न्यू मीडिया पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज, Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट , धर्म-अध्यात्म और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi  के लिए क्लिक करें इंडिया सेक्‍शन

 

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

You may have missed