Weather Woes : प्रचंड गर्मी से उबल रहा उत्तर भारत, दिल्ली, यूपी, राजस्थान और हरियाणा में टूटे सारे रिकॉर्ड

नई दिल्ली, बीएनएम न्यूज: आसमान से बरसती आग से उत्तर भारत उबलने लगा है। राजस्थान के चूरू में पारा 50 डिग्री सेल्सियस को भी पार कर गया है। अन्य शहरों में भी तापमान 48-49 डिग्री के आसपास दर्ज किया गया है। दिल्ली में भी पारा 50 डिग्री को छूने की और है। वहीं, यूपी के झांसी में दिन का पारा 49 डिग्री रहा। आगरा में तापमान 48.6 और वाराणसी में 47.6 डिग्री रहा। आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र, लखनऊ  के वैज्ञानिक अतुल कुमार सिंह के मुताबिक, यूपी में मई माह में इतनी तपिश कभी नहीं रही।

पहाड़ी राज्यों में भी गर्मी कहर ढा रही है। जम्मू-कश्मीर के जम्मू संभाग में पारा 43 डिग्री तक पहुंच गया है। इसके चलते स्कूलों में छुट्टी की घोषणा करनी पड़ी। हिमाचल के ऊना में पारा 44 डिग्री को पार कर चुका है।

जयपुर स्थित मौसम विज्ञान केंद्र ने बताया कि मंगलवार को चूरू देश में सबसे गर्म रहा। यहां अधिकतम तापमान 50.5 डिग्री दर्ज किया गया, जो इस सीजन में सबसे अधिक है। इससे पहले यहां एक जून, 2019 को पारा 50.8 डिग्री दर्ज किया गया था।

चूरू के अलावा राजस्थान के गंगानगर में तापमान 49.4, पिलानी और झुंझुनू में 49, बीकानेर में 48.3, कोटा में 48.2, जैसलमेर में 48 और जयपुर में 46.6 डिग्री दर्ज किया गया। पिलानी में इससे पहले 2 मई, 1999 को अधिकतम तापमान 48.6 डिग्री दर्ज किया गया था। राज्य सरकार ने बहुत जरूरी होने पर ही घर से बाहर निकलने को कहा है।

अभी दो दिन नहीं मिलेगी लू से राहत

मौसम विभाग के मुताबिक, राजधानी के तीन केंद्रों पर तापमान 50 डिग्री के पास पहुंच गया। मुंगेशपुर व नरेला में अधिकतम तापमान 49.9 व नजफगढ़ में 49.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। विभाग ने कहा कि अभी कम से कम दो दिन प्रचंड गर्मी और लू से लोगों को राहत नहीं मिलने वाली है।

मौसम विभाग का मानना है कि पंजाब, हरियाणा, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्य प्रदेश में मंगलवार को भी हीटवेव (लू) की स्थिति रही, लेकिन बुधवार से स्थिति में सुधार शुरू हो जाएगा। थोड़ी राहत कल से ही मिलनी शुरू हो जाएगी।

31 मई तक तापमान में चार से पांच डिग्री तक गिरावट आ जाएगी। पश्चिमी राजस्थान में भी कल से ही सुधार की शुरुआत होगी। अरब सागर से 30 मई से चलने वाली हवा के असर से अगले दो-तीन दिनों में दिल्ली, पंजाब एवं हरियाणा में भी वर्षा होगी, जिससे अगले कुछ दिनों तक तापमान में गिरावट देखी जाएगी।

दिल्ली में गर्मी के कड़े तेवर से झुलस रहे लोग

दिल्ली में गर्मी के कड़े तेवर से लोग झुलसने को मजबूर हैं। मंगलवार को तो दिल्ली के मौसम विभाग के तीन केंद्रों पर तापमान 49 डिग्री से अधिक होने के कारण पचास डिग्री की तपिश महसूस हुई।

मुंगेशपुर व नरेला में अधिकतम तापमान 49.9 और नजफगढ़ में तापमान 49.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि दिल्ली के मानक केंद्र सफदरजंग में तापमान पांच डिग्री अधिक 45.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 57 साल के इतिहास में पहली बार मंगलवार को आयानगर और 51 साल में रिज में तापमान सबसे अधिक दर्ज किया गया।

मौसम विभाग के वैज्ञानिक डॉ कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया कि राजधानी में सफदरजंग मानक केंद्र है। मंगलवार को यहां तापमान 45.8 डिग्री और न्यूनतम तापमान 27.4 डिग्री दर्ज किया गया। अधिकतम तापमान बीते चार साल में दूसरा बार सबसे अधिक है। 27 मई 2020 को सफदरजंग में तापमान 46 डिग्री दर्ज किया गया था। ऑल टाइम रिकॉर्ड की बात करें तो 1931 से 2023 तक सफदरजंग में 29 मई, 1944 को तापमान 47.2 और 17 जून 1945 को तापमान 46.7 डिग्री दर्ज किया गया था।

पश्चिमी विक्षोभ से दो दिन बाद मामूली राहत

मौसम विभाग के अनुसार अभी दो दिन तक ऐसी ही गर्मी बनी रहेगी। बुधवार को भी गर्मी व लू का रेड अलर्ट है। इस दौरान तापमान 46 डिग्री रहने की संभावना है। जबकि दिन में हीट वेव की स्थिति बनी रहेगी। दिन में 25-35 किलोमीटर प्रतिघंटा की हिसाब से धूल भरी हवाएं चलेंगी। 30 मई को भी लगभग ऐसी स्थिति रहेगी। शाम से मौसम में बदलाव होगा।

पश्चिमी विक्षोभ के कारण 31 मई व एक जून को तापमान में दो से तीन डिग्री की मामूली गिरावट होगी। विभाग ने 31 मई व एक जून को मामूली बारिश व धूल भरी हवाएं चलने की संभावना जताई है। जून के पहले सप्ताह तक भले ही तापमान दो से तीन डिग्री कम हो जाए, लेकिन गर्मी 45 डिग्री से अधिक वाली ही महसूस होगी।

बुंदेलखंड में लू और बुखार से 12 की मौत

बुंदेलखंड में तेज धूप व गर्म हवाओं के चलते लू और बुखार की चपेट में आने से 12 लोगों की मौत हो गई। सबसे ज्यादा छह लोगों की मौत महोबा, तीन की हमीरपुर और दो की बांदा में हुई। वहीं, चित्रकूट में एक व्यक्ति की जान चली गई। संवाद

यूपी में सारे रिकॉर्ड टूटे

यूपी में गर्मी ने सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। झांसी में पारा 49 डिग्री पहुंच गया, जो 132 वर्ष में सर्वाधिक है। आगरा, हमीरपुर व प्रयागराज में पारा 48.2, कानपुर व वाराणसी में 47.6 और फतेहपुर में 47.2 डिग्री रहा जो मई महीने का अब तक का रिकॉर्ड है।

सप्ताहांत में बारिश के आसार

मौसम विज्ञान विभाग ने कहा कि उत्तर पश्चिम भारत में बृहस्पतिवार को पश्चिमी विक्षोभ की स्थिति बनने की उम्मीद है, जिससे सप्ताहांत में इस क्षेत्र में बारिश हो सकती है। इससे तापमान में गिरावट आएगी।

राजस्थान में गर्मी से छह दिन में 48 की जान गई

राजस्थान में भीषण गर्मी के चलते मंगलवार को 13 लोगों की जान चली गई। प्रदेश में लू लगने से पिछले छह दिन में 48 लोगों की मौत हुई है। मंगलवार को टोंक में पति-पत्नी सहित पांच लोगों की मौत हो गई। इनमें से तीन की चमड़ी झुलसी हुई थी। पाली में एक पुलिस कांस्टेबल व एक बुजुर्ग ,जयपुर में 22 साल के युवक की जान गर्मी से चली गई। इसके अलावा उदयपुर और बारां में पांच लोगों की जान गई।

प्री-मानसून से केरल में भारी बारिश, जल्द पहुंचेगा मानसून

केरल में मानसून के आगे बढ़ने की परिस्थितियां अनुकूल बनी हुई हैं। अगले 24 घंटे के दौरान एक-दो स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। मंगलवार को भी केरल एवं तटीय इलाकों में कई स्थानों पर प्री-मानसून के चलते भारी वर्षा हुई है। इससे यहां चार लोगों की मौत हो गई। कोच्चि में प्रख्यात मलयालम लेखिका और साहित्यकार एम लीलावती के घर में पानी घुस गया।

इससे उनके दो मंजिला मकान में सैकड़ों किताबें, फर्नीचर, इलेक्ट्रानिक उपकरण और अन्य सामान खराब हो गया। मौसम विभाग का मानना है कि अगले पांच दिनों तक केरल में कई जगह भारी वर्षा होगी। इसी दौरान तीन से चार दिनों के भीतर मानसून का प्रवेश हो जाएगा।

अनुमानित तिथि 30 या 31 मई है। केरल एवं बंगाल की खाड़ी के साथ पूर्वोत्तर भारत के अन्य राज्यों में भी अगले तीन से चार दिनों में मानसून का विस्तार हो सकता है।

LICK TO VIEW WHATSAAP CHANNEL

भारत न्यू मीडिया पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज, Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट , धर्म-अध्यात्म और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi  के लिए क्लिक करें इंडिया सेक्‍शन

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

You may have missed