Ebrahim Raisi: ईरान के दिवंगत राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी का सम्मान, भारत में आज राष्ट्रीय शोक

नई दिल्ली, एजेंसीः हेलिकॉप्टर हादसे में ईरानी राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी (Ebrahim Raisi) की आकस्मिक मौत भारत के लिए भी बड़ा नुकसान है। ये रईसी ही थे, जिन्होंने चीन और पाकिस्तान की ओर से दबाव डाले जाने के बावजूद चाबहार बंदरगाह भारत को सौंपने का रास्ता साफ किया। यही नहीं, ईरान के इस्लामिक देश होने के बाजवूद रईसी ने कश्मीर के मसले पर भी हमेशा भारतीय रुख का समर्थन किया।

ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी की मौत पर भारत ने आज 21 मई को एक दिवसीय राष्ट्रीय शोक का ऐलान किया है। राष्ट्रपति रईसी और विदेश मंत्री सहित ईरान के कुछ बड़े नेताओं की अजरबैजान में एक हेलिकॉप्टर क्रैश में मौत हो गई थी। इसके बाद ईरान ने पांच दिनों के लिए राष्ट्रीय शोक का ऐलान किया है। वहीं कुछ अन्य देशों ने भी इस तरह के कदम उठाए हैं।

ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी अजरबैजान में एक डैम का उद्घाटन कर लौट रहे थे, जब कथित रूप से खराब मौसम की वजह से उनका हेलिकॉप्टर क्रैश कर गया था। हेलिकॉप्टर में विदेश मंत्री होसैन अमीराब्दुल्लाहियन, पूर्वी अजरबैजान प्रांत के गवर्नर मालेक रहमती और राईसी की बॉडीगार्ड टीम के प्रमुख मेहदी मौसवी भी सवार थे।

ईरान में पांच दिनों के सार्वजनिक शोक का ऐलान

राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी का आज तबरीज शहर में अंतिम संस्कार किया जाएगा। उनकी मौत पर ईरान के सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह खामेनेई ने पांच दिनों के सार्वजनिक शोक का ऐलान किया है। वहीं तुर्की और बाकी कुछ देशों ने भी राष्ट्रपति रईसी की मौत पर शोक का ऐलान किया है।

हेलिकॉप्टर क्रैश की ईरान ने जांच शुरू की

हेलिकॉप्टर क्रैश की जांच के लिए ईरानी सेना के चीफ ऑफ स्टाफ मेजर जनरल मोहम्मद बघेरी ने एक हाई रैंकिंग प्रतिनिधिमंडल नियुक्त किया है। स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, ब्रिगेडियर अली अब्दुल्लाही के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल घटना स्थल भी पहुंच गया है और जांच भी शुरू कर दी है। ईरानी न्यूज एजेंसी ने बताया कि मिशन पूरा होने के बाद जांच के नतीजे बाद में घोषित किए जाएंगे।

ईरान में राष्ट्रपति चुनाव का हुआ ऐलान

राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी की मौत के बाद ईरान में नए राष्ट्रपति का चुनाव किया जाएगा। इसके लिए तारीखों का ऐलान भी कर दिया गया है। नए राष्ट्रपति के चयन के लिए 28 जून को चुनाव का ऐलान किया गया है। इसके लिए उम्मीदवार 30 मई से 3 जून तक अपना नामांकन दाखिल कर सकेंगे। वहीं 12-27 जून तक चुनाव के लिए प्रचार किया जा सकेगा। सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह खामेनेई ने फिलहाल उप राष्ट्रपति को एक कार्यकारी के तौर पर जिम्मेदारी सौंपी है।

यह भी पढ़ेंः हेलीकॉप्टर क्रैश में ईरान के राष्ट्रपति रईसी समेत सभी सवारों की मौत, पीएम मोदी ने शोक जताया

भारत न्यू मीडिया पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज, Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट , धर्म-अध्यात्म और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi  के लिए क्लिक करें इंडिया सेक्‍शन

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

You may have missed