Kaithal News: मुख्यमंत्री के ‘शांतिदूत’ बन कैथल पहुंचे हरपाल सिंह, एसपी और घायल युवक से मुलाकात

नरेन्द्र सहारण, कैथल: Kaithal News: दस जून की रात एक सिख युवक सुखविंदर सिंह को खालिस्तानी कह कर जानलेवा हमले करने के मामले में प्रदेश सरकार से संज्ञान लिया है। मुख्यमंत्री नायब सैनी ने स्वयं एसपी कैथल से बातचीत की और अपने ‘शांतिदूत’ के रूप में हरियाणा पंजाबी एवं संस्कृत अकादमी के निदेशक हरपाल सिंह चीका कैथल को भेजा। हरपाल सिंह ने सुखविंदर से मुलाकात की और उसे स्पेशल वार्ड में शिफ्ट करवा दिया। इसके बाद वह एसपी उपासना से मिले। पूरी घटना की जानकारी लेने के बाद उन्होंने इसे बिना किसी साजिश के घटी दुर्भाग्यपूर्ण घटना करार दिया। हरपाल सिंह ने सिख समाज की जत्थेबंदियों और पंजाब के अकाली दल नेताओं को भी नसीहत देते हुए कहा कि सोशल मीडिया पर वह जो बयानबाजी कर रहे हैं, उसे बंद करें। मुख्यमंत्री नायब सैनी की सख्त हिदायत और संदेश है कि हरियाणा में भाईचारा खराब नहीं होने देंगे।

हमें खालिस्तानी कहना दुखदायी

हरपाल सिंह ने पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि समाज में लोगों के बीच किसी न किसी बात पर कहासुनी-झगड़े हो जाते हैं, लेकिन सिखों की विडंबना है कि उन्हें खालिस्तान से जोड़ दिया जाता है। हम सिख भी हरियाणवी हैं। देशभक्त हैं। देश और प्रदेश की तरक्की में साथ हैं। हरियाणा के सिख पाकिस्तान से उजड़ कर आए हुए हैं। उनका संघर्ष ज्यादा बड़ा है। हमें खालिस्तानी कहना दुखदायी है। प्रदेश में इस तरह का माहौल नहीं है, जिस तरह का दिखाया जा रहा है। कुछ शरारती युवकों ने गैर-इरादतन हुए झगड़े में सिख युवक को खालिस्तानी बोला है, जिसको लेकर सभी में गुस्सा है। इसलिए सभी को बयानबाजी छोड़ कर एकजुटता का संदेश देना चाहिए। अगर इस मामले का राजनीतिकरण हुआ तो शरारती लोग फायदा उठा लेंगे। हरपाल सिंह ने पुलिस की कार्रवाई पर संतुष्टि जाहिर की।

अकाली दल कर रहा राजनीति

अकाली दल पर हमला बोलते हुए हरपाल सिंह ने कहा कि वह खुद पंजाब में ऐसी ही बातों में फंसे रहते हैं। जब तक वह भाजपा के साथ थे, देश व प्रदेश में सब कुछ सही था और अब जब वह साथ नहीं हैं तो यह बातें करने लगे हैं। वह यह बात समझ लें कि हरियाणा के सिखों को उनकी कोई जरूरत नहीं है। वह अपना घर देखें। उन्होंने कहा कि इस घटन को तीन दिन हो गए हैं, लोग सिर्फ बयानबाजी और बैठकें कर रहे हैं। घायल युवक की समस्या किसी ने नहीं पूछी।

गुरुद्वारा नीम साहिब में हुई बैठक

वीरवार को नीम साहिब गुरुद्वारा में सिख समाज की बैठक हुई। इस बैठक में करनाल, दिल्ली, कुरुक्षेत्र, पिहोवा, रोहतक, कैथल से समाज के लोगों ने भाग लिया। करीब तीन घंटे चली बैठक में इस मामले को लेकर 12 लोगों की एक कमेटी बनाई गई है। समाज के लोगों ने यहां अपनी मांगों का ज्ञापन डीएसपी गुरविंदर सिंह को सौंपा।

 

CLICK TO VIEW WHATSAAP CHANNEL

भारत न्यू मीडिया पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज, Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट , धर्म-अध्यात्म और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi  के लिए क्लिक करें इंडिया सेक्‍शन

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

You may have missed