Haryana LS Results 2024 : हरियाणा के मदीना गांव में राहुल गांधी ने लगाए थे धान, जानें क्या रही उस बूथ की स्थिति

नरेन्द्र सहारण, सोनीपत : Haryana LS Results 2024 : 11 महीने पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अचानक मदीना गांव पहुंचकर खेत में ट्रैक्टर चलाकर पूरे देश को चौंका दिया था। उन्होंने दो घंटे तक गांव में प्रवास किया और पानी भरे खेत में धान लगाने के साथ ही खेत में बैठकर किसानों के साथ नाश्ता भी किया। गांव की महिलाओं को दिल्ली आवास पर बुलाकर खातिरदारी भी की थी। राहुल गांधी से मिलकर उत्साहित ग्रामीणों ने मतदान में भी उत्साह दिखाया, लेकिन मतगणना के दौरान मदीना गांव के बूथ नंबर 177 का परिणाम ही जारी नहीं किया गया। कांग्रेसियों ने मौके पर विरोध भी किया, लेकिन पीठासीन अधिकारी की लापरवाही और भारत निर्वाचन आयोग का हवाला देकर ईवीएम को वापस जमा करवा दिया। अभी तक भी इस बूथ का परिणाम सार्वजनिक नहीं किया गया है। इसके अलावा सोनीपत विधानसभा क्षेत्र के बूथ नंबर 79 की ईवीएम का भी रिजल्ट घोषित नहीं किया। कांग्रेस नेताओं का आरोप है कि परिणाम जारी करने में उन्हें कुछ शक था, इसी के चलते बड़ी संख्या में लोग मतगणना केंद्र के पास पहुंचे थे। अगर मार्जन कम होता तो गड़बड़ी की प्रबल आशंका थी। अब अधिकारी नियमों का हवाला देकर अपनी सफाई दे रहे हैं।

विधायक और जिलाध्यक्ष के गांवों में मिले अच्छी वोट

 

भाजपा प्रत्याशी मोहनलाल बड़ौली के गांव में भी कांग्रेस ने 824 वोट हासिल कर दोनों पार्टी के नेताओं को चौका दिया। इतना ही नहीं भाजपा के जिलाध्यक्ष जसवरीर दोदवा के गांव से भी कांग्रेस ने 235 वोट ज्यादा हासिल किए। मदीना, बड़ौली और दोदवा गांव पर जिलेभर के राजनीतिक लोगों की नजर थी, जिसके कारण इन गांवों के बूथों पर भाजपा ने दिन रात मेहनत की थी, जबकि मदीना गांव में तो कांग्रेस प्रत्याशी प्रचार के लिए पहुंच भी नहीं पाए थे, इसके बावजूद लोगों ने उनकी झोली वोटों से भर दी। ऐसे में भाजपा खेमे में घर में ही पार्टी की खराब हाल की वजह को लेकर चिंतन किया जा रहा है।

पिछली बार से ज्यादा वोट मिले

 

भाजपा जिलाध्यक्ष जसवीर दोदवा का कहना है कि उनके गांव में पिछली बार 140 वोट आए थे, कांग्रेस को 1485 वोट मिली थी। इस बार हमें 502 वोट ज्यादा मिली है। मेरे बूथ पर भाजपा ने बढ़त बनाई है। आने वाले समय में और ज्यादा मेहनत करेंगे। हम छह विधानसभा हलकों में जीते हैं, लेकिन खरखौदा, जुलाना और बरोदा में कांग्रेस को ज्यादा लीड मिली।

यहां कांग्रेस का झंडा बुलंद

 

-बरोदा में कांग्रेस ने 30573 लीड ली, कांग्रेस को 70314 और भाजपा को 39741 वोट मिले
-खरखौदा में कांग्रेस ने 12991 की लीड ली, यहां 57148 मत कांग्रेस और 44217 मत भाजपा को मिले
-गोहाना में कांग्रेस ने 1392 की लीड ली, यहां कांग्रेस को 59054 और भाजपा को 57662 वोट मिले
-जुलाना में कांग्रेस ने 24325 की लीड लेते हुए 71471 वोट लिए, यहां भाजपा को 47146 वोट मिले।

चुनाव से पहले मदीना ने दिए थे संकेत

 

मदीना गांव के लोगों ने चुनाव से पहले ही कांग्रेस को बंपर वोट देने के संकेत दिए थे। गोहाना में 18 मई को प्रधानमंत्री की रैली के दिन गांव का दौरा कर लोगों से बातचीत की थी तो ग्रामीणों ने कांग्रेस को वोट देने की बात कही थी। यहां राहुल गांधी ने संजय के खेत में ट्रैक्टर चलाया था, जब संजय से गांव के माहौल के बारे पूछा तो था तो उन्होंने साफ कहा था कि उनके गांव में कांग्रेस का प्रचार खुद ग्रामीण कर रहे हैं, इसलिए कांग्रेस प्रत्याशी की जीत पक्की है। जीत के बाद ग्रामीणों ने खुशी जताई थी।

दोनों बूथ की ईवीएम की गिनती की जरूरत नहीं पड़ी

 

गोहाना के एसडीएम विवेक आर्य ने कहा कि बूथ नंबर 79 और 177 की ईवीएम पीठासीन अधिकारी डेमो वोट को क्लियर नहीं कर सके थे। भारत निर्वाचन आयोग की गाइडलाइन के तहत अगर जीत हार का अंतर इन बूथ की कुल वोट से कम होता तो इनमें मौजूद वीवीपैट स्लिप से गिनती की जाती, लेकिन, जीत हार का अंतर 21816 वोट का था, इसी वजह से दोनों बूथ की ईवीएम की गिनती करने की जरूरत नहीं पड़ी। पूरी निष्पक्षता से सोनीपत में चुनाव प्रक्रिया सम्पन्न हुई है।

 

CLICK TO VIEW WHATSAAP CHANNEL

भारत न्यू मीडिया पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज, Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट , धर्म-अध्यात्म और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi  के लिए क्लिक करें इंडिया सेक्‍शन

 

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0