Haryana Politics: राव इंद्रजीत सिंह ने कहा, कुछ लोगों ने धर्मबीर के साथ न होने का फैलाया भ्रम, आज वह चौधरी को जिताने आए हैं

नरेन्द्र सहारण, भिवानी। Haryana Politics: चार मई को चौधरी धर्मबीर सिंह के पर्चा भरने के समय वह नहीं पहुंच पाया तो लोगों में भ्रम डाल दिया कि राव इंद्रजीत सिंह बिरादरीवाद में फंस गया और धर्मबीर को जिताना ही नहीं चाहता। आज वह धर्मबीर चौधरी को जिताने आया है। उन्होंने कहा कि भिवानी-महेंद्रगढ़ सीट से भाजपा प्रत्याशी चौ. धर्मबीर सिंह के नॉमिनेशन की उनको सूचना तक नहीं दी गई। धमकी भरे अंदाज में उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव के बाद सबकी खबर लूंगा। उन्होंने लोगों से धर्मबीर सिंह के लिए वोट की अपील की। कांग्रेस प्रत्याशी राव दान सिंह पर भी वे खूब भड़के।

पर्चा भरने की कानोंकान खबर नहीं होने दी

 

यह विचार सोमवार को कनीना क्षेत्र के गांव सेहलंग में आयोजित चुनावी जन सभा को संबोधित करते हुए भाजपा के नेता एवं गुड़गांव लोकसभा से प्रत्याशी राव इंद्रजीत सिंह ने व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि पार्टी के कुछ लोगों को तीन दिन पूर्व जिम्मेदारी सौंपी थी कि चार को धर्मबीर पर्चा भरेगा, लेकिन उनको कानोंकान खबर नहीं होने दी।

जिम्मेदार किसको ठहराऊं

उन्होंने कहा कि अगर राव दान सिंह जीतता है तो वह चौधरी भूपेंद्र सिंह हुड्डा के साथ मिल जाता है तो सारे राजी, तो चर्चा होती है अहीर की जाट से मिटिंग हो गई बहुत बढ़िया बात, अगर जाट इंद्रजीत का साथ देता है तो गलत। पार्टी के कुछ बड़े नेताओं का जिम्मा है प्रदेश की दस की दस लोकसभा सीट जिताने का, वर्तमान में बड़े नेता भी हैं, उनको तीन दिन का समय दिया था कि इंद्रजीत को खबर करो कि चार तारीख को धर्मबीर पर्चा भर रहे हैं, लेकिन तीन दिनों तक इंद्रजीत के कानोंकान खबर नहीं होने दी, जिम्मेदार किसको ठहराऊं।

इलेक्शन के बाद खबर ली जाएगी

आखिर धर्मबीर ने सुबह फोन करके ही पूछ लिया कि तुम आ रहे हो या नहीं, लेकिन पार्टी वालों की जिम्मेदारी थी कि लेकिन खबर नहीं दी तो क्या करें, जिसकी जिम्मेदारी थी, उसकी इलेक्शन के बाद खबर ली जाएगी। हो सकता है भाजपा में भी भीतरघात हो, लेकिन कांग्रेस में भी भीतरघात होता रहा है। लेकिन आज के दिन वह दावा करते हैं इस इलेक्शन के बाद हरियाणा का मानचित्र बदलेगा।

दान सिंह को मैंने बनाया, मुझे छोड़ कर भागा

चुनावी सभा में राव इंद्रजीत सिंह ने कांग्रेस के प्रत्याशी राव दान सिंह को भी आड़े हाथ लिया। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि महेंद्रगढ़ भिवानी लोकसभा से कांग्रेस के जो उम्मीदवार हैं, उसको मैंने बनाया और वह मुझे छोड़कर भाग गया। चौधरी धर्मबीर सिंह न तो मेरा रिश्तेदार है और न ही मेरी बिरादरी का है, यह मेरे साथ रह रहा है। हम दोनों मिलकर क्षेत्र के विकास में चार चांद लगा देंगे।

हुड्डा सीएम तब बनेगा, जब वह बनने देंगे

राव इंद्रजीत सिंह ने कहा कि कुछ लोग कह रहे हैं कि भूपेंद्र सिंह हुड्डा सीएम बनेंगे, लेकिन वह जब सीएम बनेंगे जब हम बनने देंगे, अन्यथा कैसे बनेगा। कोई भ्रम में न रहे भाजपा में भी बदलाव होगा, जो लोग आज बड़े-बड़े ओहदों पर बैठे हैं जरूरी नहीं कि यही लोग आगे भी उसी तरह से बैठे रहें।

 

Tag- Haryana Politics, Rao Inderjit Singh, Dharambir Choudhary, Bhiwani Mahendragarh, Loksabha Election 2024

भारत न्यू मीडिया पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज, Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi  के लिए क्लिक करें इंडिया सेक्‍शन

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0