Sonipat Crime: दो दोस्तों ने मिलकर की दोस्त की हत्या, फिर गड्ढे में दफनाया शव…आरोपी बेटे की मां ने खोला राज

सोनीपत के खरखौदा में एक घर से पुलिस ने सचिन नामक युवक के शव को गड्ढे से बाहर निकाला।

नरेन्द्र सहारण, खरखौदा (सोनीपत): सोनीपत जिले के खरखौदा में उस समय सनसनी फैल गई, जब पुलिस दलबल के साथ बरोना बाईपास पर एक कॉलोनी में निर्माणधीन कमरे पर पहुंची और वहां से एक युवक के शव को गड्ढे से बाहर निकाला। शहर की प्रताप कालोनी के रहने वाले 24 वर्षीय एक युवक की उसके ही साथियों ने मिलकर हत्या कर दी थी, शव को छिपाने के लिए दोनों ने बाईपास के पास बने कमरे में गड्ढा खोदा और उसमें शव को दबा दिया। लेकिन ज्यादा देर तक वह खुद की गई वारदात को छिपा नहीं सके और एक आरोपित ने घर जाकर अपनी मां को सारी बात बताई तो उसकी मां ही आरोपित कमल को लेकर थाने पहुंची और सारी बात बताई। पुलिस ने मौके पर जाकर देखा तो कमरे में सचिन का शव गड्ढे में दबा हुआ था। पुलिस ने कमल व उसके नाबालिग साथी के खिलाफ मामला दर्ज कर नाबालिग को बोस्टल जेल में भेज। जबकि कमल का न्यायालय में पेश कर रिमांड पर लिया है। वहीं मृतक सचिन के शव का पीजीआइ, खानपुर में पोस्टमार्टम करवाया गया है।

साथियों के साथ घूमता रहा सचिन

 

गांव लाठ जोली हाल खरखौदा की प्रताप कालोनी का रहने वाला 24 वर्षीय सचिन विवाह-शादियों व अन्य कार्यक्रमों में वेटर का काम करता था। खरखौदा की गुरुकुल वाली गली में रहने वाला कमल और एक नाबालिग लड़का उसके दोस्त थे जो अकसर साथ ही रहते थे। आइएमटी खरखौदा में बतौर सिक्योरिटी गार्ड काम करने वाले सचिन के बड़े भाई संजू ने बताया कि सचिन सोमवार की रात को घर पर नहीं था। ऐसे में उसने रात सवा आठ बजे उसे फोन किया तो सचिन ने कुछ देर बाद आने की बात कही थी। लेकिन वह वापिस नहीं आया। सचिन अपने साथी कमल व एक अन्य के साथ ही खाता-पीता और घूमता था। वह सोमवार को भी उनके ही साथ था, जिस पर संजू ने उन पर ही सचिन को मारकर कहीं छिपा देने की शक जताया था। जिस पर पुलिस ने मामला दर्ज किया था।

मां को बताई वारदात

 

कमल ने अपने नाबालिग साथी के साथ मिलकर सचिन की शराब पीने के बाद हुए विवाद में सुए मारकर हत्या तो कर दी, लेकिन वारदात के ज्यादा देर छिपा नहीं सका। उसकी मां अंगुरी ने बताया कि सोमवार को कमल ने पास्ता बनाकर रखने को कहा था। लेकिन फिर वह फोन करने पर कुछ देर बाद आने की बात कहता रहा लेकिन आया नहीं। मंगलवार की शाम को घर आया तो सहमा हुआ था, पूछने पर उसने सारी बात उसे बताई तो उसके पैरों तले से जमीन सरक गई।

मां लेकर पहुंची हत्यारोपित बेटे को थाने

 

मंगलवार की देर शाम को कमल की मां अंगुरी अपने बेटे को साथ लेकर थाने पहुंची और उसने बताया कि उसके बेटे ने अपने साथी के साथ मिलकर सचिन की सुए व बोतल मारकर हत्या कर दी है। यही नहीं, उन्होंने उसके शव को एक कमरे में गड्ढा खोदकर वहां दबा दिया है। यह बात सुनकर पुलिस भी हैरान रह गई और वारदात को सूनकर तुरंत मौके पर पहुंची तो वहां पर शव गड्ढे में दबा मिला।

देर रात गड्ढे में से निकाला शव

घटना स्थल का मुआयना करने के लिए देर रात जहां डीसीपी नरेंद्र कादयान पहुंचे वहीं ड्यूटी मजिस्ट्रेट नपा सचिव संदीप कुमार की अगुवाई में गड्ढे में दबे शव को बाहर निकाला गया। जिससे पहले एफएसएल की टीम ने पहुंचकर मौके से नमूने एकत्रित किए। जिसके बाद शव को पुलिस ने अपने कब्जे में कर पोस्टमार्टम करवाने के लिए पीजीआइ, खानपुर भेज दिया गया। बुधवार की देर शाम सचिन का पोस्टमार्टम हुआ।

पैसों की मांग को लेकर हुआ विवाद

खरखौदा के थाना प्रभारी अंकित कुमार ने कहा कि आरोपित मृतक के दोस्त थे, दोनों आरोपितों से लिए हुए पैसों को सचिन वापिस नहीं दे रहा था। सोमवार को जब तीनों ने शराब पी तो पैसों की मांग को लेकर उनका विवाद होने पर सचिन की हत्या कर दी गई। नाबालिग को बोस्टल जेल भेज दिया गया है, वहीं कमल को न्यायालय में पेश कर रिमांड पर लिया गया है, ताकि पूछताछ की जा सके।

Tag- Haryana News, Sonipat Crime, friends murdered, Sachin Murder, Kharkhoda of Sonipat district, Vikas Colony, Haryana Police

भारत न्यू मीडिया पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज, Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट , धर्म-अध्यात्म और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi  के लिए क्लिक करें इंडिया सेक्‍शन

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0