Swati Maliwal: सीएम हाउस में आप राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल के साथ बदसलूकी? दिल्ली पुलिस को आया कॉल; जांच जारी

स्वाति मालिवाल।

नई दिल्ली, बीएनएम न्यूज। Swati Maliwal: लोकसभा चुनाव की सरगर्मी के बीच आम आदमी पार्टी (Aap) की राज्यसभा सदस्य एवं दिल्ली महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल व उनके निजी सचिव विभव कुमार पर सोमवार को गंभीर आरोप लगाए। सोमवार सुबह नौ बजे मुख्यमंत्री आवास पहुंचीं स्वाति मालीवाल ने कुछ देर बाद ही पीसीआर को काल कर सूचना दी कि सीएम के कहने पर विभव कुमार ने उन्हें बुरी तरह से पीटा है। वहां से रोते हुए बाहर आईं स्वाति एक आटो में बैठकर सिविल लाइंस थाने पहुंच गईं। उन्होंने एसएचओ को आपबीती बताई, लेकिन वापस आकर लिखित शिकायत देने की बात कहकर लौट गईं। बाद में पुलिस अधिकारियों ने स्वाति से कई बार संपर्क कर शिकायत देने का अनुरोध किया, लेकिन उन्होंने कोई शिकायत नहीं दी है। उत्तरी जिला पुलिस शिकायत न देने पर भी पीसीआर काल के आधार पर मुकदमा दर्ज करेगी या नहीं, इसे लेकर उच्चस्तरीय विमर्श किया जा रहा है। इस मामले में दिल्ली सरकार से पक्ष मांगा गया, लेकिन पक्ष नहीं मिला। राष्ट्रीय महिला आयोग ने प्रकरण की जांच के लिए दल भेजने का निर्णय किया है। साथ ही, पुलिस से तीन दिन के अंदर कार्रवाई रिपोर्ट मांगी है।

सिविल लाइंस थाने में लगाया आरोप

स्वाति करीब नौ साल तक दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष रही हैं। वह खेलगांव में परिवार के साथ रहती हैं। विशेष आयुक्त कानून एवं व्यवस्था रवींद्र सिंह यादव ने बताया कि सुबह करीब 9.10 बजे स्वाति अपनी निजी कार से मुख्यमंत्री आवास पर पहुंचीं। वह सीएम से मिलना चाहती थीं, लेकिन उनके आवास पर मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें मिलने से मना कर दिया। थोड़ी देर तक बहस होने के बाद स्वाति मालीवाल ने 9.31 बजे पुलिस कंट्रोल रूम को फोन कर मुख्यमंत्री के कहने पर उनके निजी सचिव विभव कुमार पर मारपीट करने का आरोप लगाया। कमांड रूम से काल 9.34 पर उत्तरी जिला पुलिस के कंट्रोल रूम में ट्रांसफर कर दी गई। यहां 9.39 बजे काल की डीडी एंट्री हुई। 9.34 बजे पुलिस ने काल को जिले में फ्लैश करते हुए कहा कि काल करने वाले का कहना है कि वह अभी मुख्यमंत्री के आवास पर हैं। सीएम ने अपने निजी सचिव विभव कुमार के साथ बुरी तरह मारपीट की है। काल को सही कर कुछ ही मिनट में कंट्रोल रूम से दूसरी काल कर बताया गया कि मुख्यमंत्री के कहने पर उनके निजी सचिव विभव कुमार ने उनके साथ मारपीट की है। इस पर पीसीआर तुरंत सीएम आवास के बाहर पहुंच गई।

शिकायत देने की बात कहकर चली गईं

पीसीआर कर्मियों ने स्वाति को काल कर बाहर आने को कहा, जिससे रोते हुए वह बाहर निकलीं। पुलिसकर्मियों के कहने पर स्वाति एक आटो में बैठकर शिकायत देने सिविल लाइंस थाने पहुंच गईं। उधर, काल सुनकर थानाध्यक्ष सीएम आवास के बाहर पहुंच गए। थाने पहुंचीं स्वाति ने ड्यूटी आफिसर से थानाध्यक्ष राजीव कुमार का नंबर लेकर उन्हें आपबीती बताई। इस पर उन्होंने स्वाति को थाने में रुकने को कहा। पांच मिनट में थानाध्यक्ष थाने पहुंच गए। इस बीच, स्वाति के पास लगातार काल आने पर वह थानाध्यक्ष से यह कहकर बाहर चली गईं कि उनके पास कई मीडिया कर्मियों के काल आ रहे हैं, उनसे बात करने के बाद वह कुछ देर में शिकायत देने आएंगी। लेकिन, उसके बाद वह थाने नहीं आईं।

मुख्यमंत्री आवास में मारपीट करने का यह दूसरा मामला छह साल बाद सामने आया है। फरवरी, 2018 में आप नेताओं पर दिल्ली के तत्कालीन मुख्य सचिव अंशु प्रकाश के साथ मारपीट करने और अपमानित करने के आरोप लगे थे। यह मामला उन दिनों काफी सुर्खियों में रहा था।

भाजपा ने कहा, मुख्यमंत्री आवास में भी सुरक्षित नहीं हैं महिलाएं

भाजपा ने घटना को शर्मनाक बताते हुए कहा कि यदि मुख्यमंत्री आवास में महिला सांसद भी सुरक्षित नहीं हैं तो आम महिलाओं की सुरक्षा कैसे होगी? भाजपा की प्रदेश महामंत्री कमलजीत सहरावत ने कहा कि घटना के बाद से पुलिस मालीवाल से संपर्क नहीं कर पा रही है, जिससे पता चलता है कि उनके ऊपर बहुत दबाव है। दिल्ली भाजपा अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने कहा कि अंतरिम जमानत पर जेल से बाहर आने वाले मुख्यमंत्री एक महिला सांसद को अपने सलाहकार से पिटवा रहे हैं। कहा कि केजरीवाल की महिला विरोधी राजनीति के कारण किरण बेदी, शाजिया इल्मी, ऋचा पांडेय सहित कई महिला नेताओं ने उनका साथ छोड़ दिया। आप के कई विधायकों पर महिलाओं के विरुद्ध अपराध के आरोप लगे हैं।

स्वाति मालीवाल के साथ मारपीट और दुर्व्यवहार

नई दिल्ली लोकसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार बांसुरी स्वराज ने कहा कि हमें आज बहुत ही शर्मशार कर देने वाली खबर पता चली है… मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के उकसाने पर उनके OSD ने उनकी पार्टी की एक सांसद स्वाति मालीवाल के साथ मारपीट और दुर्व्यवहार किया है। उन्होंने आज सुबह ही दिल्ली पुलिस को फोन कर शिकायत कर दी थी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की मौजूदगी में और उनके आवास पर ये व्यवहार हुआ है… भाजपा इस वाक्य की कड़ी निंदा करते हैं…”

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा, “एक महिला सांसद के ऊपर अगर इस तरह की बात हुई तो AAP के बाकी नेताओं को बोलना चाहिए। देश के जो बाकी बुद्धिजीवी जाग जाते थे, आज उन्हें भी जागकर बोलना चाहिए कि दिल्ली पुलिस इस मामले की जांच करे। किसने पीटा, किसने पिटवाया, क्या कारण थे? और ये फूट कहां तक जाएगी जब अरविंद केजरीवाल 2 तारीख को फिर जेल जाएंगे।’

इस तरह की पहली घटना नहीं

 

घटना पर भाजपा प्रवक्ता शाज़िया इल्मी ने अरविंद केजरीवाल के पीए को ‘दुष्ट’ करार दिया। उन्होंने कहा कि वह राजधानी में आप के बारे में तबसे सबकुछ जानती हैं जब वे खुद पार्टी सदस्य थीं। शाजिया इल्मी ने कहा कि आप के भीतर गंदगी है और मैं इसके बारे में सब कुछ जानती हूं क्योंकि मैं पहले पार्टी में थी। मैं जानती हूं कि आप कैसे काम करती है। यह इस तरह की पहली घटना नहीं है।

PA विभव कुमार ने मारपीट की

 

भाजपा के IT सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने दावा किया कि AAP सांसद स्वाति मालीवाल के साथ CM केजरीवाल के PA विभव कुमार ने मारपीट की है। ये घटना CM हाउस में हुई, लेकिन कोई आधिकारिक रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई गई है।

हम सब बहनें स्वाति मालीवाल के साथ हैं

 

इस मामले पर सियासत शुरू हो गई है। दिल्ली भाजपा महिला मोर्चा अध्यक्ष ऋचा पांडेय मिश्रा ने कहा कि केजरीवाल के घर में सांसद स्वाति मालीवाल के साथ हुई हिंसा और प्रताड़ना गंभीर अपराध है। दिल्ली भाजपा महिला मोर्चा मांग करता है कि अगर ये अपराध हुआ है तो इस अपराध के लिए अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार किया जाना चाहिए। हम सब बहनें स्वाति मालीवाल के साथ हैं। उन्हें न्याय दिलाकर रहेंगे।

 

Tag- Delhi News, Swati Maliwal, Delhi Police, Vibhav Kumar, Arvind Kejriwal

भारत न्यू मीडिया पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज, Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi  के लिए क्लिक करें इंडिया सेक्‍शन

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0