ओडिशा में भी माफिया तत्वों पर बुलडोजर चलाने की जरूरत : योगी आदित्यनाथ

ओडिशा,बीएनएम न्यूज: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को ओडिशा में दो लोकसभा सीटों के लिए जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने ओडिशा के पुरी और केंद्रपाड़ा लोकसभा के साथ विधानसभा की कई सीटों के लिए पार्टी प्रत्याशियों के पक्ष में जनता से वोट की अपील की।

सीएम योगी ने जनसभा में प्रदेश की सत्ताधारी पार्टी बीजद समेत प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस व इंडी गठबंधन पर जमकर हमला किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सम्मान, सुरक्षा, विकास, गरीब कल्याण और विरासत का संरक्षण हुआ है। प्रधानमंत्री नरेंद्र माेदी ने अयोध्या में राम मंदिर बनाकर गुलामी के ढांचे को हटा दिया है तो वहीं नवीन पटनायक सरकार के संरक्षण में भगवान जगन्नाथ पुरी के मुख्य खजाने की चाबी ही गुम हो गई। यह लोग भगवान के खजाने में डकैती डाल रहे हैं। मां भगवती के श्रीचरणों में प्रार्थना करता हूं कि हमें इतनी ताकत मिले कि डबल इंजन सरकार लाकर ओडिशा में लैंड माफिया, सैंड माफिया, कैटल माफिया और फॉरेस्ट माफिया पर यूपी जैसा बुलडोजर चला सकें।

यह मोदी का भारत है, छेड़ता नहीं, मगर कोई छेड़े तो छोड़ता भी नहीं है

सीएम योगी ने पुरी लोकसभा क्षेत्र की जनसभा में कहा कि जब सरकार भाजपा की बनती है और नरेंद्र मोदी जैसा नेतृत्व मिलता है तो देश में परिवर्तन आता है। आतंकवाद-नक्सलवाद नियंत्रित हुआ है। यह मोदी का नया भारत है, किसी को छेड़ता नहीं, लेकिन छेड़ने वाले छोड़ता भी नहीं है। यहां विकास तेजी से हो रहा है। आज टू-लेन, फोरलेन हाईवे बन रहे हैं। वंदे भारत, नमो भारत, अमृत भारत के रूप में बुलेट स्पीड से चलने वाली विश्वस्तरीय ट्रेन की सुविधा दी जा रही है। देश में 80 करोड़ लोगों को चार वर्ष से फ्री राशन मिल रहा है और अगले पांच वर्ष तक मिलेगा, लेकिन ओडिशा की नवीन पटनायक सरकार फ्री राशन की सुविधा को भी अपने नाम से भुनाने का कार्य करती है। नवीन पटनायक सरकार आयुष्मान भारत की सुविधा लागू नहीं होने देना चाहती है। मोदी सरकार में सबका साथ-सबका विकास की भावना के साथ विकास योजनाएं लागू हो रही हैं, लेकिन आज भी देश में ऐसे कुछ लोग हैं, जो रहते-खाते भारत का हैं और गाते पाकिस्तान का हैं। वे पाकिस्तान का राग अलापते हुए भारत के दुश्मनों का महिमा मंडन करते हैं। सीएम योगी ने कहा कि ऐसे लोग भारत पर बोझ न बनें, वे पाकिस्तान ही चले जाएं, जहां 23 करोड़ की आबादी एक किलो आटा, गेहूं के लिए तड़प रही है।

तंजः बीजद लड़ रही 21 सीट पर और सपना देख रही सरकार बनाने का

सीएम योगी ने कहा कि अब तक 12 राज्यों में दौरा कर चुका हूं, हर जगह से यही आवाज आ रही है कि फिर एक बार मोदी सरकार, अबकी बार-400 पार। वे यहां की 21 सीटों पर चुनाव लड़ रहे हैं, इसलिए यह नारा सुनते ही बीजू जनता दल के नेताओं को चक्कर आने लगता है। यह लोग केंद्र में सरकार नहीं बना पाएंगे। इन्हें जिताकर कोई फायदा नहीं, इसलिए जनता ही बीजद को जवाब देती है कि जो राम को लाए हैं, हम उनको लाएंगे। पूरे देश में जश्न है, क्योंकि पांच सदी के बाद प्रभु राम ने अपना जन्मदिन अयोध्या में मनाया और होली भी खेली। नया भारत विरासत और विकास की यात्रा लेकर चल रहा है। सीएम ने आरोप लगाया कि बीजू जनता दल नौकरशाहों से घिरी सरकार है। जब नौकरशाही सरकार को घेरती है तो वह तानाशाही को जन्म देती है। जनता से उसका कोई वास्ता नहीं होता है। वहां भ्रष्टाचार पनपता है, गरीब के हक पर डकैती पड़ती है। लैंड और सैंड माफिया के आगे प्रशासनिक तंत्र विफल हो जाता है। किसी नौकरशाह को इतनी स्वतंत्रता नहीं देना चाहिए कि वह सत्ता का संचालन करने लग जाए। सत्ता का संचालन संसदीय लोकतंत्र में जनता की ओर से चुने गए जनप्रतिनिधि के ही माध्यम से होना चाहिए। यही सही लोकतंत्र का प्रतीक है। एक ओर यहां की सरकार उड़िया परंपरा व संस्कृति का मखौल उड़ा रही है, वहीं दूसरी ओर इंडी गठबंधन देश में जनविरोधी कार्य कर रही है।

कोलकाता हाईकोर्ट का जताया आभार

सीएम ने कोलकाता हाईकोर्ट का आभार जताया। बोले कि तृणमूल सरकार ने 2010 से लगातार मुस्लिमों को ओबीसी जाति में जबरन शामिल कर ओबीसी आरक्षण में घुसपैठ करने का षडयंत्र किया था। कोलकाता हाईकोर्ट ने तृणमूल कांग्रेस सरकार के सभी फैसले को पलट दिया और कहा कि भारत के अंदर धर्म के आधार पर आरक्षण नहीं हो सकता। इस पर बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर का मंतव्य ही आखिरी है। हमें संविधान की भावना का पालन करना चाहिए। धार्मिक आधार पर आरक्षण संविधान की मूल भावना के विपरीत है। भारतीय मूल के पिछड़ी, अनुसूचित जाति व जनजाति के लोगों को ही आरक्षण का लाभ मिलना चाहिए।

नवीन पटनायक ने ओडिशा के लोगों को विकास की पटरी से 50 साल पीछे भेजा

सीएम योगी ने केंद्रपाड़ा लोकसभा क्षेत्र में रैली को संबोधित करते हुए कहा कि यहां जो पावर जनरेट होती है, वह ओडिशा को महंगे दाम पर, लेकिन दूसरे राज्यों को सस्ते दाम पर दी जाती है, क्योंकि नवीन बाबू नौकरशाही के चक्कर में पड़ गए हैं। यह लोग उन्हें गुमराह करते हैं। यहां के लोगों ने इतना लंबा समय नवीन पटनायक को दिया है, फिर भी ओडिशा विकास नहीं कर पाया। 2017 से पहले यूपी भी माफिया के शिकंजे में था, कहीं लैंड-सैंड, माइनिंग माफिया थे। आज यूपी में सभी माफिया को उल्टा लटका दिया गया है। उसकी संपत्ति को सरकार के कब्जे में लेकर गरीबों के आवास बना दिया गया है। बहन-बेटियों की सुरक्षा से खिलवाड़ करने वालों को माफिया पर बुलडोजर का इस्तेमाल कर उसे जहन्नुम में पहुंचा दिया है। उन्हाेंने कहा कि संसदीय लोकतंत्र में यदि प्रशासनिक तंत्र शासन को चलाने लगता है तो अव्यवस्था, भ्रष्टाचार, तानाशाही बढ़ती है। गरीबों का शोषण होता है और माफियाराज पनपता है। 20-25 वर्षों में प्रशासनिक तंत्र ने सरकार को घेरे में लेकर ओडिशा के लोगों को विकास की पटरी से 50 साल पीछे भेज दिया है। जनता के पास अवसर है, जैसे डबल इंजन सरकार उत्तर प्रदेश में कार्य कर रही है, वैसे ही ओडिशा में लाने के लिए भाजपा के सुयोग्य लोगों को जिताकर विधानसभा व लोकसभा में भेजें।

भारत न्यू मीडिया पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज, Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट , धर्म-अध्यात्म और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi  के लिए क्लिक करें इंडिया सेक्‍शन

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0